उसे उदास कर खुद भी रोना हैं !ये हादसा जाने क्यों होना हैं…!!तोड़ कर दिल मेरा यूँ जाते हैं वो अक्सर !जैसे उनके वास्ते दिल मेरा कोई खिलौना हैं !!

वो रुठते रहे हम मनाते रहे,उनकी राहों में पलके बिछाते रहे,उसने कभी पलट के भी नहीं देखा,हम आँख झपकने से भी कतराते रहे.

जिंदगी एक चाहत का सिलसिला है,कोई किसी से मिल जाता है तोकोई किसी से बिछड़ जाता है.जिसे हम मांगते है अपनी दुआ में,वो किसी को बिना मांगे मिल जाता है.

आए मोहब्बत तेरे अंजाम पे रोना आये,जाने क्यों आज तेरे नाम पे रोना आये,यूँ तो हर साम तेरी उम्मीद में गुजर जाती है आज कुछ बात हैं जो साम पे रोना आये ,

जब भी करीब आता हूँ बताने के किये !जिंदगी दूर रखती हैं सताने के लिये…!!महफ़िलों की शान न समझना मुझे !मैं तो अक्सर हँसता हूँ गम छुपाने के लिये !!

उसे उदास कर खुद भी रोना हैं !ये हादसा जाने क्यों होना हैं…!!तोड़ कर दिल मेरा यूँ जाते हैं वो अक्सर !जैसे उनके वास्ते दिल मेरा कोई खिलौना हैं !!

वो रुठते रहे हम मनाते रहे,उनकी राहों में पलके बिछाते रहे,उसने कभी पलट के भी नहीं देखा,हम आँख झपकने से भी कतराते रहे.

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता हैं,जिसे चाहो वही अपने से दूर होता हैं,दिल टूटकर बिखरता हैं इस कदर जैसे,कोई काँच का खिलौना चूर-चूर होता हैं.www.facebook.com/Mysayri

Like us on Facebookकितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता;गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता;एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को;क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता! अजीब था उनका अलविदा कहना !सुना कुछ नहीं और कहा…