दिल की आवाज़ को इज़हार – इश्क़ शायरी

दिल की आवाज़ को इज़हार कहते हैं झुकी निगाह को इकरार कहते हैं सिर्फ पाने का नाम इश्क नहीं कुछ खोने को भी प्यार कहते हैं।

Share this post