कट गई हयात – ख्याल शायरी

उसके बगैर भी तो अदम कट गई हयात उसका खयाल उससे जियादा जमील था।

Share this post