इस अजनबी सी दुनिया में….

इस अजनबी सी दुनिया में,अकेला इक ख्वाब हूँ ! 

सवालों से खफ़ा,चोट सा जवाब हूँ ! 

जो ना समझ सके,उनके लिये “कौन ! 

जो समझ चुके,उनके लिये किताब हूँ !!


Share this post